AdSense

Click Here

Health tips for winter season in Hindi - सर्दियों में स्वस्थ रहने के तरीके

Winter Health Tips 


सर्दियों में healthy routine को बनाए रखना काफी मुश्किल होता है। सर्दियों में दिन छोटे होते हैं और रातें बडी जिससे काम आधे-अधूरे रह जाते हैं। सर्दियों में बाहर जाकर व्यायाम करना भी एक सिरदर्द बन जाता है। बाहर जाकर काम करने का मन नहीं करता फिर चाहे वो वॉक पर जाना हो या फिर बच्चे के साथ खेलना हो।

 शारीरिक गतिविधियां कम होने से हमारे शरीर पर इसका प्रभाव तो पड़ता ही है हमें ठंड में खुद को अधिक से अधिक एक्टिव रखने की जरूरत पड़ती है जोकि बहुत मुश्किल हो जाता है हमारे लिए  ऐसे में हमारे स्वास्थ्य को प्रभावित होना लाजमी है  
Winter health care yips


 सर्दियों में हमें सर्दी जुकाम  ,flu , जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है Cold नाक और गले के वायरल संक्रमण होते हैं Cold किसी भी मौसम के दौरान हो सकती है और किसी को भी प्रभावित कर सकती है। वयस्कों की तुलना में बच्चों को अक्सर cold हो जाता है ऐसे कई वायरस हैं जो सर्दी का कारण बन सकते हैं, कभी-कभी मौसमी और कभी-कभी महामारी में और कई बार तो समस्या ज्यादा बढ़ जाने पर डॉक्टर के पास भी जाना पड़ता है   इसी तरह फ्लू भी एक वायरल बीमारी है जो मुख्य रूप से सर्दियों के महीनों में होती है 

ऐसे में यदि हम अपने स्वास्थ्य को ठीक रखना चाहते हैं तो हमें एक्स्ट्रा देखभाल की जरूरत पड़ती है हम आपको इस पोस्ट में ऐसे ही कुछ स्वास्थ्य संबंधी सर्दियों के लिए टिप्स दे रहे हैं जो निश्चित ही आप की आपका स्वास्थ्य बनाए रखने में मदद करेगा 



#1 चिंता मुक्त रहें /  avoid stress


तनाव को कम से कम रखें।  कई दिनों में या पाया गया है कि उन व्यक्तियों में ठंड लगने और फ्लू होने के ज्यादा चांसेस होते हैं जो व्यक्ति बहुत अधिक तनाव ग्रस्त होते हैं      अपने काम पर उचित घंटे काम करके अपने तनाव को कम करें।मित्रों और परिवार के साथ प्रति सप्ताह कम से कम एक बार गेट टूगेदर जरूर करें । यदि आपका तनाव  बहुत ज्यादा है तो  और आपको लगता है कि आपको कुछ मदद की ज़रूरत है, ऐसे में आप जिस भी वजह तनाव में है आप उसके कारणों को अपनी किसी क्लोज फ्रेंड दिया फैमिली मेंबर के साथ शेयर करें इस दो फायदे होंगे तो आपका तनाव कम होगा दूसरे आपकी प्रॉब्लम का कोई न कोई solution  जरूर मिल जाएगा




#2 balanced diet / स्वस्थ आहार

आपको सर्दियों में अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि सर्दियों में हमारे शरीर को गर्मियों के अपेक्षा अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है जो हमारे शरीर  गर्मी प्रदान करने के लिए बहुत जरूरी होता है जिसके लिए हमें  स्वस्थ और संतुलित आहार की आवश्यकता होती है पोषक तत्वों से भरपूर आहार ही हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है सर्दियों में हमें खास करके विटामिन सी से युक्त भोजन हरे साग सब्जियां ज्यादा मात्रा में खानी चाहिए हमें ऐसा भोजन करना चाहिए जिसमे फाइबर ज्यादा से ज्यादा मौजूद हो ताजा फल और सब्जियों की बड़ी मात्रा में खाना चाहिए  आपको तली भोजन के कैंडिस मिठाई आदि को अपनी डाइट से हटाना चाहिए और इसके और इसकी जगह गर्म सूट सब्जियां फल में वे प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ और ढेर सारे तरल पदार्थ कॉन्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट जैसे आलू पास्ता को ब्राउन राइस आदि को अपनी खुराक में शामिल करना चाहिए


BALANCE DIET -संतुलित आहार क्या हैं




  #3 पानी की उचित मात्रा  /drink more  water 

 सर्दियों में अक्सर ठंड लगने की वजह से पानी पीने से कतराते हैं उतना ही पीते हैं जितनी उनकी जरूरत होती है पानी की जितनी आवश्यकता में गर्मियों में होती है उतनी ही आवश्यकता में सर्दियों में भी होती है हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए तथा पाचन प्रक्रिया को सुचारु रुप से कार्य करने के लिए पानी की उचित मात्रा आवश्यक है इसलिए हमें दिन भर में कम से कम 8 से 10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए कम पानी पीने से कमजोरी हल्का सिर दर्द ध्यान न लग पाना सूखी त्वचा और सूखे मुझे सी समस्याएं बढ़ती है शरीर के अंदर पानी की कमी और साथी हवा की खुश्की नकसीर फूटने और सांस की समस्या का कारण बन जाती है इससे बचने के लिए कमरे में एक ही humidifier रखें  यह कमरे में नमी के जरूरी स्तर को बनाए रखती है


जाने पानी पीने का सही तरीका और मात्रा - HOW TO DRINK WATer


#4 अच्छी नींद / sleep well


अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर होने से रोकने और ठंड और फ्लू के लिए आपको अधिक संवेदनशील बनाने के लिए रात में कम से कम आठ से दस घंटे सोएं।   औसत व्यक्ति को प्रति रात 6-8 घंटे सोने की जरूरत होती है। यदि आपको पर्याप्त नींद नहीं मिल रही है, तो आपका शरीर  कमजोर है। नींद ईंधन की तरह बहुत  ज़रूरी  है जो आप  को रिचार्ज करती हैं


#5 Omega 3 fatty acid


ओमेगा 3 फैटी एसिड एक स्वस्थ प्रकार की वसा होती है जो स्वाभाविक रूप से मछली, पौधे के बीज और नट सहित कई खाद्य प्रकारों में पाई जाती है। ओमेगा 3 फैटी acids  joint pain  को कम करने के लिए बहुत अच्छे हैं अध्ययनों से यह भी पता चला है कि ओमेगा 3 फैटी एसिड depression  को कम करने  मैं मदद करते हैं, जो लोग आमतौर पर सर्दी के दिनों के दौरान महसूस करते हैं।


सेहत का रखवाला है ओमेगा-3 फैटी एसिड


  #6 Excercise


मौसम चाहे कोई भी हो व्यायाम हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है और सर्दियों के मौसम में  ह खासतौर से इसकी जरूरत होती है लेकिन सर्दियां होने की वजह से हम रोज डेली एक्सरसाइज नहीं कर पाते इसलिए सर्दियों में कम से कम week में 2 दिन अवश्य excercise  के लिए निकालें वैसे तो हम रोज exercise करनी चाहिए लेकिन व्यस्तता के कारण मैं हमेशा नहीं कर पाते हैं इसलिए हमें सत्ता में अपने लिए एक्सरसाइज का टाइम जरुर निकालना चाहिए या हमारे शरीर को स्वस्थ रखने और immunity system  को मजबूत करने  में सहायक होता है यदि आप कर सकते हैं, तो अपने workout  program  को एक दोस्त के साथ एक दूसरे यदि आप कर सकते हैं, तो अपने कसरत कार्यक्रम को एक दोस्त के साथ एक दूसरे को प्रोत्साहित करने के लिए प्रोत्साहित करें और motivated  रहे



  #7 Hand wash 


हमें अपनी साफ सफाई पर पूरा ध्यान देना चाहिए हमें अपने हाथों को हमेशा स्वस्थ और क्लीन रखना चाहिए क्योंकि हमारे हाथों में  बैक्टीरिया सबसे ज्यादा होते इसीलिए हमें खाना खाने से पहले अपने हाथों को अच्छे से साबुन से साफ करना चाहिए  हमें जब भी खासी अच्छी गाती है तो अपने हाथ को सीधा अपने मुंह और नाक के पास ले जाते हैं जबकि ऐसा करना गलत होता है इसके लिए हमें अपने पास एक हमेशा एक रुमाल रखना चाहिए  हम उस रुमाल को अपने मुंह और नाक पर इस्तेमाल करें लेकिन ऐसा नहीं हो पाता है ना चाहते हुए भी हमारे हाथ बार बार नाक और  मुंह  को टच करते हैं जिससे हमारे हाथों के बैक्टीरिया हमारे मुंह में चले जाते हैं जो बीमारियों का कारण बनते हैं इसीलिए अपने हाथों की साफ सफाई पर पूरा ध्यान देना चाहिए यह न केवल आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली की रक्षा में मदद करता है और आपको फ्लू और ठंड को विकसित करने से रोकता है, 


#8 Mashroom 

मशरूम की कई प्रजातियां हैं जिनमें प्रतिरक्षा-बढ़ावा देने वाले तत्व मौजूद होते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि मशरूम स्वाभाविक रूप से एंटीबायोटिक होते हैं। औषधीय गुण देता है, जो हमें कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। सर्दियों में मशरूम का सेवन बहुत फायदेमंद साबित होता है


# 9 Vitamins and minerals


सर्दियों के दौरान विटामिन सी  की अधिक मात्रा में सेवन करने से  शरीर को ठंड और फ्लू के लक्षणों से लड़ने में मदद मिलेगी यदि आप उन्हें अनुभव करते हैं। विटामिन डी सर्दियों के दौरान  प्रकाश की कमी को पूरक करने में मदद करता है, विटामिन डी विटामिन ए, लौह और कैल्शियम जैसे अन्य महत्वपूर्ण विटामिन को अवशोषित करने में मदद करता है।


हमें विटामिन सी की आवश्यकता क्यों है





#10 oil massage


ठंड आते ही बड़े बुजुर्गों के जोड़ों के सारे दर्द सिर उठाने लगते हैं इसका एक कारण यह है कि ठंड में जोड़कर जिला पल कम हो जाता है इसे बरकरार रखने के लिए जोड़ों को गर्माहट देने की आवश्यकता होती है ठंड के मौसम में मांसपेशियां भी सख्त हो जाती है जिसकी वजह से दर्द होता है खासतौर पर पीठ कंधे और छाती में इसके लिए गर्म तेल की मालिश एक बहुत अच्छा विकल्प है हमें ठंडी में तेल से मसाज करने से राहत मिलती है रक्त संचार अच्छा रहता है  और मांसपेशियों को भी राहत मिलती है ठंडी मालिश सूजन और जलन को कम करती है इसीलिए  आप चाहे तो नहाने से पहले हल्के गुनगुने सरसों या जैतून के तेल से पूरे शरीर की मालिश करें फिर इसके बाद नहाए इससे आपको खुश्की से राहत मिलेगी



#11 त्वचा की नमी


सर्दी आते ही त्वचा में खुजली की समस्या बढ़ जाती है त्वचा में खिंचाव रूखे होठ और फटी एड़ियां तो तमाम समस्याएं हैं जो ठंड के आते ही शुरू हो जाती हैं इन्हें रोकने की रोकने के लिए हमें देखभाल की जरूरत पड़ती है ठंड के मौसम के लिए ग्लिसरीन, वैसलीन  विटामिन इ आयल, दूध, शहद से बने साबुन का चुनाव करना चाहिए यह आपकी त्वचा की नमी को बनाए रखेंगे  एक और कारगर उपाय है कि आप अपने नहाने के पानी में सोडा मिला सकती हैं यह खुजली से राहत देता है त्वचा की नमी को बनाए रखने के लिए  पर्याप्त पानी पीते रहना चाहिए सर्दियों में भी सनस्क्रीन लोशन नियमित रूप से इस्तेमाल करें इसे त्वचा की हानिकारक किरणों से सुरक्षा होती है

ठंड में चाहिए दमकती त्वचा तो ध्यान रखें ये उपाय


सर्दियों के लिए बेहतरीन हेयर पैक


सर्दियों में बालों की देखभाल कैसे करें?

#12 धूप भी है जरूरी


सर्दियों में में सूरज की रोशनी कम ही मिल पाती है ऐसे में कुछ लोगों को अवसाद डिप्रेशन निराशा जैसी समस्या हो जाती है हालांकि यह समस्या स्थाई नहीं है मौसम बदलते के साथ ही इस समस्या भी ठीक हो जाती है इसीलिए जब भी धूप दिखे अधिकतम समय धूप में गुजारे घर में रोशनी की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए खुद को तरोताजा रखने के लिए हॉबी में व्यस्त होना और व्यायाम करना आपके लिए अच्छा और फायदेमंद साबित होगा


विटामिन डी की कितनी मात्रा आवश्यक है



Friends आपको यह post  कैसी लगी उम्मीद है कि बताई गई टिप्स आपको पसंद आई होगी आप अपने विचार हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं आपका कमेंट हमारे लिए बहुत important  होता है और यह भी बताएं कि आगे आप किस टॉपिक पर पोस्ट पढ़ना पसंद करेंगे इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ भी शेयर करिए
आप हमें Facebook, LinkedIn, Twitter,Instagram,googl g + , Pinterest पर भी फॉलो कर सकते हैं आगे ऐसे ही उपयोगी पोस्ट पढ़ने के लिए हमें सब्सक्राइब करें जो बिल्कुल फ्री है अधिक जानकारी के लिए visit करें www.carefast.in


Previous
Next Post »